पीपीपी मॉडल के जरिए 16 राज्यों के 3.61 लाख गांवों तक पहुंचेगा इंटरनेट