अच्छी खबर : भारतीय चावल की विदेश में बढ़ी मांग, 30 हजार करोड़ रुपए का ‘बासमती’ हुआ निर्यात