अंडमान-निकोबार तक युद्ध नायकों के बलिदान का संदेश पहुंचाएगी ”स्वर्णिम विजय मशाल”